Century Chemicals मे काम करने गया कामगार ११ दिनों से लापता, परिजन बेहाल

सेंचुरी केमिकल से लापता कामगार पंकज मिश्रा को जमीन खा गई या आसमान निगल गया?

11 दिन बाद भी कोई सुराग नहीं…

श्वान पथक और पुलिस दोनों नाकाम 

कल्याण- गत ११ दिनों से शहाड़ स्थित सेंचुरी केमिकल कंपनी मे काम करने गए कामगार पंकज मिश्रा को जमीन खा गई या आसमान निगल गया ये बात ना तो उसके परिजन को समझ रही है ना ही उनके परिजनों को समझ मे आ रहा है।

भीषण पेयजल समस्या झेल रहे दावडी वासियों का सयम का इम्तिहान ना ले प्रशासन – बद्री यादव

इस घटना को हुए ११ दिन बीत गए लेकिन पुलिस के श्वान पथक, स्थानीय महात्मा फुले पुलिस और सेंचुरी कंपनी का प्रबंधन समिति उसे ढूंढने में असफल साबित हुई है। जिससे लापता कामगार पंकज मिश्रा के परिजन को किसी अनहोनी कि आशंका से हाल बेहाल है।

साजिश : डोंबिवली का शास्त्रीनगर अस्पताल अब सिर्फ कामचलाऊ महिला प्रसूति गृह

बतादें कि पिछले शुक्रवार को शहाड़ स्थित सेंचुरी रेयान कंपनी के केमिकल प्लांट मे काम करने गया कामगार पंकज मिश्रा केमिकल प्लांट से आन ड्यूटी गायब हुआ है, जिसका कोई सुराग हाथ नहीं लग रहा है।

Mumbai Highcourt का बलात्कार पीड़िता नाबालिग की पहचान उजागर करने वाले वाले वकील पर जुर्माना

कामगार सूत्रों के अनुसार कंपनी के लाकर में पंकज का आई कार्ड, मोबाइल फोन और कपड़े पड़े हुए हैं। कंपनी के अंदर उसकी बाइक भी खड़ी है तो फिर आखिरकार उक्त कर्मचारी गया कहां? सीसीटीवी में महज दो बड़े वाहनों को निकलते देखा गया है लेकिन पकंज मिश्रा का कोई अता-पता नहीं है।

मध्य और पश्चिम रेलवे ट्रैक पर गत एक वर्ष मे ढाई हजार यात्रियों की मौत

कामगारों को प्रलोभन देकर उनके मताधिकार से नेता बने युनियन के शीर्ष नेता भी मुंह बंद किए हैं। अभी तक किसी भी युनियन नेता का अधिकारिक बयान सामने नहीं आया है। वहीं सात दिन बीत जाने के बाद इस घटना को लेकर कामगारों में तरह-तरह की चर्चाएं की जा रही हैं।

Jalebi Baba को 120 महिलाओं से बलात्कार करने के आरोप में 14 साल कैद

जिसको लेकर पंकज मिश्रा के परिजन परेशान हैं। बताया जाता है कि 42 वर्षीय पंकज मिश्रा नामक कर्मचारी कंपनी में टैंकर फिलर के रूप में कार्यरत था। शुक्रवार को सेकेंड शिप्ट में कार्ड पंच कर अंदर ड्यूटी पर गया लेकिन शिप्ट समाप्त होने के बाद भी वह बाहर नहीं निकला। अब सवाल यह उठता है कि पंकज मिश्रा को जमीन खा गई या आसमान निगल गया?

किस साजिश के तहत डोंबिवली पूर्व की मनपा महिला प्रसूति गृह पिछले दस साल से बंद ?

इस बारे मे मुंबई आसपास द्वारा सेन्चरी कंपनी के जनसम्पर्क अधिकारी PRO मेहुल लालका से संपर्क किये जाने पर उन्होंने भी कामगार के लापता होने की पुष्टि की है और पुलिस द्वारा जांच जारी होने की बात कही है।

रेल यात्रियों की शिकायतों को दबाने के लिए ही सक्रिय है रेल मंत्रालय का टि्वटर हैंडल @RailwaySeva

One thought on “Century Chemicals मे काम करने गया कामगार ११ दिनों से लापता, परिजन बेहाल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *