पश्चिम रेलवे ने उपनगरीय ट्रेन के आरक्षित डिब्बों के अवैध यात्री से 3 लाख वसूले, तृतीय पंथियों से 1 लाख

पश्चिम रेलवे के टिकट निरीक्षकों और रेलवे सुरक्षा बल (RPF) द्वारा उपनगरीय ट्रेन में महिला एवं विकलांगों के आरक्षित डिब्बे में अवैध रूप से यात्रा करने और उनसे अभद्रता करने वाले यात्रियों के विरुद्ध की गई कार्रवाई में 53 हजार अवैध यात्रियों से तीन लाख रुपये से अधिक का जुर्माना वसूल किया है।

मध्य और पश्चिम रेलवे ट्रैक पर गत एक वर्ष मे ढाई हजार यात्रियों की मौत

टिकट निरीक्षकों और रेलवे सुरक्षा बल (RPF) ने दिसंबर 2022 में एक विशेष अभियान चलाया था। पश्चिम रेलवे द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार इस अभियान में 2 हजार 835 लोगों को पकड़ा गया.

रेल यात्रियों की शिकायतों को दबाने के लिए ही सक्रिय है रेल मंत्रालय का टि्वटर हैंडल @RailwaySeva

वेस्टर्न रेलवे सिक्योरिटी फोर्स ने तृतिये पंथीओ के खिलाफ भी कार्रवाई की है। यात्रियों द्वारा इन आरक्षित डिब्बे में तृतिये पंथीओ द्वारा प्रवेश के साथ-साथ प्रताड़ित करने की लगातार शिकायत मिल रही थी । इसी का संज्ञान लेते हुए 348 तृतीय पंथियों के खिलाफ कार्रवाई कर उनसे एक लाख 16 हजार 200 रुपये जुर्माना वसूल किया गया है.

टिकट जांच कर्मचारीयों पर हमला रेल अधिकारियों की देन।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *