फिर तारीख ! महाराष्ट्र मे जारी सत्ता संघर्ष मे सर्वोच्च न्यायलाय की फिर नई तारीख !!

राज्य के उद्धव ठाकरे  कि शिवसेना (Shivsena) और मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे Eknath Shinde की नेतृत्व वाली शिवसेना मे सत्ता पर काबिज करने और सत्ता मे काबिज के लिए जारी उठा पटक कि लड़ाई एक बार फिर आज लंबी हो गई ।

किस साजिश के तहत डोंबिवली पूर्व की मनपा महिला प्रसूति गृह पिछले दस साल से बंद ?

मंगलवार सुबह इसी विषय पर सर्वोच्च न्यायलाय Supreme Court  ने दोनों पक्षों को अगले फरवरी महीने की १४ तारीख दी है। सर्वोच्च न्यायलाय के पाँच जजों के बेंच के माननीय न्यायधीशों दोनों पक्षों को १४ फरवरी से इस मामले कि लगातार सुनवाई की बात कही है।

अंधेरी में 5,000 करोड़ रुपये के श्रम अस्पताल को अडानी को देने की साजिश !: राजेश शर्मा

उल्लेखनीय है कि मंगलवार सुबह से ही उद्धव ठाकरे कि शिवसेना पक्ष के नेताओ मे काफी उत्साह दिखा। इस पक्ष से सांसद संजय राऊत, Sanjay Raut अनिल देसाई Anil Desai और अनिल परब Anil Parb सुबह सुबह ही दिल्ली पहुच गए थे और मामले कि सुनवाई के पहले ही सुप्रीम कोर्ट मे पहुच गए थे।

रेल यात्रियों की शिकायतों को दबाने के लिए ही सक्रिय है रेल मंत्रालय का टि्वटर हैंडल @RailwaySeva

सुबह सुबह ही सांसद राऊत मीडिया मे अपने पार्टी के पक्ष मे परिणाम आने के बारे आशान्वित थे। मीडिया मे जोर शोर से अपने पक्ष रख रहे थे। उन्होंने आज के निर्णय पर पहले ही भविष्यवाणी कर दी थी कि राज्य कि शिंदे सरकार फरवरी महीने तक ही रहेगी।

यूपी सरकार की मंशा आर्थिक मजबूती, नौजवानों को रोजगार मिले: जायसवाल

लेकिन सर्वोच्च न्यायलाय द्वारा अगले महीने कि १४ फरवरी मिलने पर सांसद राऊत कहा कि १४ फरवरी को Valentine’s Day है। और आगे जो भी होगा वो सब प्रेम से होगा।

शिवसेना नेता अनिल परब के खिलाफ ED In Action

सर्वोच्च न्यायलाय मे सुनवाई के दौरान उद्धव ठाकरे  कि शिवसेना का पक्ष देश के वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल Kapil Sibbal ने पक्ष रखा वही बालासाहेब कि शिवसेना के तरफ से प्रख्यात अधिवक्ता हरेश शालवे Harish Salve कि टीम ने पक्ष रखा।

2 thoughts on “फिर तारीख ! महाराष्ट्र मे जारी सत्ता संघर्ष मे सर्वोच्च न्यायलाय की फिर नई तारीख !!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *